राजनीति

भारतीय जनता पार्टी में अब आंतरिक लोकतंत्र खत्म हो गया है – प्रकाश पुंज पाण्डेय

रायपुर ब्यूरो रिपोर्ट

रायपुर। समाजसेवी और राजनीतिक विश्लेषक प्रकाशपुन्ज पाण्डेय ने मीडिया के माध्यम से कहा है कि ऐसा प्रतीत होता है कि तथाकथित विश्व की सबसे बड़ी राजनीतिक पार्टी, भारतीय जनता पार्टी में अब आंतरिक लोकतंत्र खत्म हो गया है। सिर्फ एन – केन – प्रकारेण सत्ता प्राप्ति के लिए राह प्रशस्त करना ही भारतीय जनता पार्टी का एकमात्र उद्देश्य रह गया है। ऐसा इसलिए कहा जा रहा है क्योंकि आगामी विधानसभा चुनाव में केरल में भाजपा की ओर से देश में मेट्रो मैन के नाम से प्रख्यात इंजीनियर ई श्रीधरन को मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार लिए चयनित किया गया है। प्रश्न उनकी आयु को लेकर उठता है।

प्रकाशपुन्ज पाण्डेय ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी के आंतरिक लोकतंत्र के अनुसार 75 साल की उम्र से अधिक नेता मार्गदर्शक मंडल में शामिल होकर पार्टी का मार्गदर्शन करते हैं। भारतीय जनता पार्टी में 75 वर्ष से अधिक की आयु के नेताओं के चुनाव नहीं लड़ने की परंपरा है। फिर केरल में 88 वर्षीय मेट्रो मैन ई श्रीधरन को मुख्यमंत्री पद का उम्मीदवार क्यों बनाया गया है? तो बड़ा प्रश्न यह है कि क्या लालकृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी, यशवंत सिन्हा आदि के साथ नाइंसाफी हुई है? जबकि लालकृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी, यशवंत सिन्हा जैसे नेता भारतीय जनता पार्टी में सर्वाधिक अनुभवी, परिपक्व और ज्ञानवान नेता हैं, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से भी कहीं अधिक! कहाँ है भाजपा का लोकतंत्र? ऐसा दोहरा मापदंड क्यों?

redbharat

हर खबर पे नजर, दे सबकी खबर

Related Articles

Back to top button
Close
Close